अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की मुमताज खान बनी सबसे चमकता युवा सितारा, FIH ने दिया अवार्ड

Jan 1 1900 12:00:00

पुनः संशोधित मंगलवार, 4 अक्टूबर 2022 (17:51 IST) हमें फॉलो करें लुसाने: भारत की युवा हॉकी खिलाड़ी मुमताज़ ख़ान को ‘एफआईएच साल 2021-22 का उभरता हुआ महिला सितारा’ पुरस्कार से नवाज़ा गया है। अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने मंगलवार को इसकी घोषणा की। एफआईएच ने बताया कि मुमताज़ ने बेल्जियम की शारलोट एंग्लेबर्ट को केवल तीन अंकों से हराया। मुमताज़ को वोटिंग के बाद कुल 32.9 अंक मिले जबकि एंग्लेबर्ट 29.9 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहीं। नीदरलैंड की लूना फोक (16.9 अंक) ने तीसरा स्थान हासिल किया। मुमताज़ ने जीत के बाद कहा, “ मुझे यकीन नहीं हो रहा कि मैंने यह पुरस्कार जीत लिया है। यह पिछले एक साल में पूरी टीम की मेहनत है, जो रंग लाई है। मैं अपनी जीत का श्रेय अपनी टीम को देती हूं। मुझे लगता है कि यह पुरस्कार इस बात का प्रमाण है कि मैंने पिछले एक साल में ट्रेनिंग ग्राउंड पर जो पसीना बहाया है, उससे मुझे एक बेहतर खिलाड़ी बनने में मदद मिली है। ”उन्होंने कहा,“ यह केवल मेरे करियर की शुरुआत है। मैं सीखने की प्रक्रिया को जारी रखूंगी और अपना खेल बेहतर करने के लिये मेहनत करती रहूंगी। ” Please put your hands together for Mumtaz Khan for winning the FIH Rising Star of the Year Award 2021-22 #HockeyIndia #IndiaKaGame #HockeyStarAwards @CMO_Odisha @sports_odisha @IndiaSports @Media_SAI pic.twitter.com/FTH0JtcwWQ — Hockey India (@TheHockeyIndia) October 4, 2022 मुमताज़ ने अंतरराष्ट्रीय हॉकी के दरवाज़े पर एफआईएच जूनियर महिला विश्व कप 2022 में दस्तक दी, जहां उनके खेलने के अनूठे तरीके और गोल करने की क्षमता ने सभी को आकर्षित किया।वह जूनियर विश्व कप के आठ मैचों में छह गोल करके भारत की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहीं। साथ ही वह विश्व कप में सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ियों की सूची में भी तीसरे स्थान पर थीं। वह टूर्नामेंट में केवल नीदरलैंड के खिलाफ गोल करने में विफल रही थीं। मुमताज ने इंग्लैंड के खिलाफ कांस्य पदक मैच को 2-2 से ड्रॉ करवाने के लिये भारत के दोनों गोल किए, हालांकि टीम शूट-आउट में हार गयी। लखनऊ निवासी मुमताज़ ने अपने खेल करियर की शुरुआत एक ट्रैक एथलीट के रूप में की थी, जो उनके चुस्ती-फुर्ती भरे खेल में जाहिर भी होता है। उन्होंने विश्व कप में अपने ज्यादातर गोल अपनी रफ्तार की बदौलत ही किये थे। We are glad to announce the winners of the FIH Rising Stars of the Year 2021-22. #HockeyStarsAwards Congratulations to @FF_Hockey's Timothée Clément and @TheHockeyIndia's Mumtaz Khan for being chosen as the winners. Detailed breakdown of the votes can be found here — International Hockey Federation (@FIH_Hockey) October 4, 2022 मुमताज़ हीरो एफआईएच हॉकी 5एस लीग 2022 में भी भारतीय टीम का हिस्सा थीं, जहां उन्होंने अपना हुनर दिखाते हुए चार मैचों में पांच गोल किये।लालरेम्सियामी (2019) और शर्मिला देवी (2020-21) के बाद मुमताज पुरस्कार जीतने वाली तीसरी भारतीय महिला हैं। इसी बीच, फ्रांस के टिमोथी क्लेमेंट को पुरुषों की श्रेणी में एफआईएच साल का उभरता हुआ सितारा नामित किया गया।(वार्ता)


		 टी-20 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में पहुंचने पर रोहित शर्मा ने कह दी सूर्यकुमार यादव के लिए बड़ी बात
Nov 7 2022 1:51:07

टी-20 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में पहुंचने पर रोहित शर्मा ने कह दी सूर्यकुमार यादव के लिए बड़ी बात

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (18:46 IST) हमें फॉलो करें मेलबर्न। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने जिम्बाब्वे के खिलाफ टी-20 विश्व कप के मैच में जीत के नायक रहे सूर्यकुमार यादव की जमकर प्रशंसा करते हुए रविवार को यहां कहा कि जब वे बल्लेबाजी कर रहा हो तो डगआउट में सहज होकर रहा जा सकता है। सूर्यकुमार ने विश्व में टी-20 के नंबर एक बल्लेबाज की ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए एक और बेहतरीन पारी खेली जिससे भारत ने जिम्बाब्वे को 71 रन से हराकर अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई जहां उसका सामना इंग्लैंड से होगा। ALSO READ:T20 World Cup में सेमीफाइनल की तस्वीर हुई साफ, भारत का मुकाबला इंग्लैंड से तो पाक भिड़ेंगा न्यूजीलैंड से रोहित ने मैच के बाद कहा कि जब वे बल्लेबाजी कर रहा होता है तो डगआउट में सहज होकर रहा जा सकता है। जब वे बल्लेबाजी करता है तो काफी संयम के साथ खेलता है। सूर्यकुमार ने 25 गेंदों पर नाबाद 61 रन की पारी खेली जबकि इससे पहले केएल राहुल ने अर्द्धशतक जमाया जिससे भारत ने 5 विकेट पर 186 रन बनाए। जिम्बाब्वे की टीम इसके जवाब में 17.2 ओवर में 115 रन पर आउट हो गईं। रोहित ने कहा कि सूर्यकुमार जो टीम के लिए कर रहा है वह असाधारण है। वह क्रीज पर उतरते ही अपना नैसर्गिक खेल खेलना शुरू करता है और दूसरे खिलाड़ियों पर से दबाव हटाता है। हम उसकी योग्यता से अच्छी तरह वाकिफ हैं और उसके क्रीज पर रहने से दूसरे छोर का बल्लेबाज सहज होकर खेल सकता है। भारतीय कप्तान ने मैच के बारे में कहा कि यह बहुत अच्छा ऑलराउंड प्रदर्शन था जैसा कि हम चाहते थे। हमने क्वालीफाई कर लिया था लेकिन हम जैसा खेलना चाहते थे, उसी तरह का खेल दिखाना चाह रहे थे और हमने ऐसा ही किया। रोहित ने कहा कि एडिलेड ओवल में सेमीफाइनल के लिए परिस्थितियों से जल्द से जल्द सामंजस्य बिठाना महत्वपूर्ण होगा। उन्होंने कहा कि हमारे लिए परिस्थितियों से जल्द से जल्द सामंजस्य बिठाना महत्वपूर्ण होगा। हमने वहां एक मैच खेला था लेकिन हमें जल्द से जल्द तालमेल बिठाना होगा। इंग्लैंड की टीम अच्छी है और यह शानदार मुकाबला होगा। क्रिकेट जगत भले ही सूर्यकुमार यादव की बल्लेबाजी का दीवाना बन गया हो लेकिन मैन ऑफ द मैच बने इस बल्लेबाज ने कहा कि वह कुछ अलग हटकर करने की कोशिश नहीं करते हैं और रणनीति के अनुसार बल्लेबाजी करने का प्रयास करते हैं। सूर्यकुमार ने कहा कि जब मैं और हार्दिक पंड्या बल्लेबाजी कर रहे थे तो मेरा मानना है कि रणनीति स्पष्ट थी। उसने कहा सकारात्मक होकर खेलो और देखते हैं हम कहां तक पहुंचते हैं। हमने गेंद को अच्छी तरह से हिट करना शुरू किया और फिर 20वें ओवर तक नहीं रुके। उन्होंने कहा कि मेरी रणनीति हमेशा स्पष्ट होती है। मैं कुछ अलग हटकर करने की कोशिश नहीं करता हूं। मैं जिस तरह से नेट पर बल्लेबाजी करता हूं उसी तरह से मैच में भी खेलता हूं। जिंबाब्वे के कप्तान क्रेग इर्विन ने कहा कि टूर्नामेंट के शुरू में अच्छा खेल दिखाने के बाद उनकी टीम सही राह से भटक गई। जिंबाब्वे ने शुरू में पाकिस्तान को हराकर बड़ा उलटफेर किया था। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हम अपनी रणनीति में बदलाव कर सकते थे। सूर्य कुमार ने आखिर में बेहतरीन बल्लेबाजी की और रिची की यार्कर को अच्छी तरह से खेला जो कि हमारे रणनीति का प्रमुख हिस्सा था। वहां हम इसमें थोड़ा बदलाव कर सकते थे। भाषा Edited by Sudhir Sharma



		 सूर्यकुमार और केएल राहुल के अर्धशतकों ने भारत को जिम्बाब्वे के खिलाफ 186 रनों तक पहुंचाया
Nov 6 2022 9:45:30

सूर्यकुमार और केएल राहुल के अर्धशतकों ने भारत को जिम्बाब्वे के खिलाफ 186 रनों तक पहुंचाया

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (15:12 IST) हमें फॉलो करें भारत ने सूर्यकुमार यादव (61 नाबाद) और लोकेश राहुल (51) के विस्फोटक अर्द्धशतकों की बदौलत टी20 विश्व कप 2022 के सुपर-12 मैच में ज़िम्बाब्वे के सामने 187 रन का लक्ष्य रखा। भारत ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी और कप्तान रोहित शर्मा (15) का विकेट जल्दी गंवाने के बावजूद पावरप्ले में 46 रन जोड़ लिये। राहुल और विराट कोहली ने दूसरे विकेट के लिये 60 रन की साझेदारी की। कोहली 25 गेंदों पर 26 रन ही बना सके, लेकिन राहुल ने टूर्नामेंट का अपना दूसरा अर्द्धशतक जड़ते हुए 35 गेंदों पर तीन चौकों और तीन छक्कों की बदौलत 51 रन की पारी खेली। टी20 विश्व कप 2022 में अपना पहला मैच खेल रहे ऋषभ पंत तीन रन बनाकर रायन बर्ल के दर्शनीय कैच की भेंट चढ़ गये। ज़िम्बाब्वे ने मध्य ओवरों में कोहली, राहुल और पंत का विकेट लेकर मैच में वापसी करनी चाही लेकिन सूर्यकुमार ने एक बार फिर अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से विपक्षी टीम को असहाय कर दिया। सूर्यकुमार ने एक और तेज अर्द्धशतक जमाते हुए 25 गेंदों पर छह चौकों और चार छक्कों की बदौलत नाबाद 61 रन बनाये। वह मोहम्मद रिज़वान (2021) के बाद एक साल में 1000 से ज्यादा टी20 अंतरराष्ट्रीय रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज भी बन गए।सूर्यकुमार की बदौलत भारत ने आखिरी पांच ओवरों में 79 रन जोड़े और 20 ओवरों में 186/5 का स्कोर खड़ा किया। (वार्ता)



		 T20 World Cup में सेमीफाइनल की तस्वीर हुई साफ, भारत का मुकाबला इंग्लैंड से तो पाक भिड़ेंगा न्यूजीलैंड से
Nov 6 2022 9:45:29

T20 World Cup में सेमीफाइनल की तस्वीर हुई साफ, भारत का मुकाबला इंग्लैंड से तो पाक भिड़ेंगा न्यूजीलैंड से

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (17:30 IST) हमें फॉलो करें मेलबर्न: दुनिया के नंबर एक टी20 बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव और लोकेश राहुल के अर्धशतक के बाद रविचंद्रन अश्विन की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से भारत आईसीसी टी20 विश्व कप के सुपर 12 के अपने अंतिम मैच में जिंबाब्वे को 71 रन से हराकर ग्रुप दो में शीर्ष पर रहते हुए सेमीफाइनल में पहुंचा जहां उसकी भिड़ंत 10 नवंबर को इंग्लैंड से होगी। भारत के 187 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए जिंबाब्वे ने अश्विन (22 रन पर तीन विकेट), मोहम्मद शमी (14 रन पर दो विकेट) और हार्दिक पंड्या (16 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और पूरी टीम 17.2 ओवर में 115 रन पर ढेर हो गई। जिंबाब्वे की ओर से रेयान बर्ल (35) और सिकंदर रजा (34) ने छठे विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी की। इन दोनों के अलावा जिंबाब्वे का कोई बल्लेबाज 20 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया।भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह और अक्षर पटेल ने भी एक-एक विकेट चटकाया। भारत ने सूर्यकुमार की 25 गेंद में चार छक्कों और छह चौकों से नाबाद 61 रन की पारी से पांच विकेट पर 186 रन बनाए। सलामी बल्लेबाज राहुल ने भी 35 गेंद में तीन छक्कों और इतने ही चौकों से 51 रन की पारी खेली। सूर्यकुमार ने हार्दिक पंड्या (18 गेंद में 18 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिए सिर्फ 5.5 ओवर में 65 रन जोड़े जिससे भारत अंतिम पांच ओवर में 79 रन जुटाने में सफल रहा। भारत ने पांच मैच में चार जीत से आठ अंक जुटाए जबकि दूसरे स्थान पर रहे पाकिस्तान ने इतने ही मैच में छह अंक हासिल किए। भारत अब गुरुवार 10 नवंबर को दूसरे सेमीफाइनल में एडीलेड में इंग्लैंड से भिड़ेगा जबकि पहला सेमीफाइनल न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच इससे एक दिन पहले सिडनी में खेला जाएगा। लक्ष्य का पीछा करने उतरे जिंबाब्वे की शुरुआत बेहद खराब रही और टीम ने आठवें ओवर में 36 रन तक ही पांच विकेट गंवा दिए जिससे टीम कभी नहीं उबर सकी। भुवनेश्वर की पारी की पहली ही गेंद पर वेस्ले माधेवेरे (00) ने शॉर्ट कवर पर कोहली को कैच थमा दिया जबकि अर्शदीप सिंह ने अगले ओवर में रगिस चकाब्वा (00) को बोल्ड किया। कप्तान क्रेग इर्विन (13) ने अर्शदीप और भुवनेश्वर पर चौके मारे। सीन विलियम्स (11) ने भी शमी पर छक्का जड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज की गेंद पर भुवनेश्वर को कैच दे बैठे। इर्विन ने भी पंड्या को उन्हीं की गेंद पर कैच थमाया जबकि शमी ने टोनी मुनयोंगा (05) को पगबाधा करके जिंबाब्वे को पांचवां झटका दिया। रजा और बर्ल ने इसके बाद पारी को संवारा। बर्ल ने हार्दिक और अश्विन पर चौके जड़ने के बाद अक्षर पटेल पर पारी का पहला छक्का जड़ा। रजा ने भी अश्विन और अक्षर पर चौके मारे। बर्ल ने अक्षर पर लगातार दो चौके जड़े लेकिन अश्विन ने उन्हें बोल्ड कर दिया। उन्होंने 22 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा। अश्विन ने अगले ओवर में मसाकाद्जा (01) को रोहित के हाथों कैच कराया और फिर नगारवा (01) को बोल्ड किया।अक्षर ने तेंडई चतारा (04) को अपनी ही गेंद पर लपककर भारत को जीत दिलाई। इससे पहले सूर्यकुमार ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाज रिचर्ड नगारवा की गेंद पर कुछ आकर्षक शॉट खेले। मुंबई के इस बल्लेबाज ने नगारवा के पारी के अंतिम ओवर में ऑफ साइड के बाहर की गेंद को डीप फाइन लेग पर छह रन के लिए भेजा और फिर पारी की अंतिम गेंद पर फाइन लेग पर छक्का जड़ा। जिंबाब्वे के बाएं हाथ के स्पिनरों वेलिंगटन मसाकाद्जा (दो ओवर में बिना विकेट के 12 रन), सिकंदर रजा (तीन ओवर में 18 रन पर एक विकेट) और सीन विलियम्स (दो ओवर में नौ रन पर दो विकेट) ने बीच के ओवरों में भारत की रन गति पर लगाम कसी। विराट कोहली (25 गेंद में 26 रन) को भी इस बीच शॉट खेलने में परेशानी का सामना करना पड़ा। सूर्यकुमार और पंड्या की तेजतर्रार साझेदारी से हालांकि भारत मजबूत स्कोर तक पहुंचने में सफल रहा।ब्लेसिंग मुजरबानी (चार ओवर में बिना विकेट के 50 रन), नगारवा (चार ओवर में एक विकेट पर 44 रन) और चतारा (चार ओवर में बिना विकेट के 34 रन) महंगे साबित हुए। इस तेज गेंदबाजी तिकड़ी ने मिलकर 12 ओवर में 138 रन लुटाए। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कप्तान रोहित शर्मा 15 रन बनाने के बाद मुजरबानी की गेंद को पुल करने की कोशिश में स्क्वायर लेग बाउंड्री पर मसाकाद्जा को कैच दे बैठे। कोहली ने पहली ही गेंद पर मुजरबानी पर चौके से खाता खोला। उन्होंने मसाकाद्जा पर भी चौका जड़ा लेकिन पावर प्ले खत्म होने के बाद उन्हें स्पिनरों के खिलाफ रन बनाने में परेशानी हुई। कोहली अंतत: अनुभवी विलियम्स की गेंद पर लॉफ्टेड ड्राइव खेलने की कोशिश में बर्ल को लांग ऑफ पर कैच दे बैठे। उन्होंने 25 गेंद का सामना करते हुए दो चौके मारे। नगारवा का पारी का पहला ही ओवर मेडन खेलने वाले राहुल ने इसी तेज गेंदबाज पर विकेट के पीछे छक्का जड़ा। दाएं हाथ का यह बल्लेबाज अच्छी लय में दिखा और उन्होंने टूर्नामेंट का अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया। राहुल ने बर्ल की लगातार गेंदों पर लांग ऑन पर छक्का और फिर स्लॉग स्वीप से चौका मारा। उन्होंने रजा पर सीधे छक्के के साथ 33 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि इसी स्पिनर पर इसी शॉट को दोहराने की कोशिश में लांग ऑफ पर मसाकाद्जा को कैच दे बैठे।ऋषभ पंत सिर्फ तीन रन बनाने के बाद विलियम्स का शिकार बने। New Zealand vs Pakistan, Sydney (Weds 9) India vs England, Adelaide (Thurs 10) Excited for the semi-finals?! #T20WorldCup pic.twitter.com/8kKupCo3W6 — Wisden (@WisdenCricket) November 6, 2022 बांग्लादेश को 5 विकेट से हराकर पाकिस्तान टी20 विश्व कप सेमीफाइनल में, न्यूजीलैंड से होगा मुकाबला एडीलेड: पाकिस्तान ने बेहतरीन गेंदबाजी प्रदर्शन की बदौलत रविवार को यहां ग्रुप दो के अपने महत्वपूर्ण हुए अंतिम मुकाबले में बांग्लादेश को पांच विकेट से हराकर टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई किया।ग्रुप बी में दूसरी टीम होने के कारण अब पाकिस्तान का मुकाबला 9 तारीख को न्यूजीलैंड से होगा। सुपर 12 चरण में भारत और जिम्बाब्वे से हार के बाद टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर खड़ी पाकिस्तानी टीम के लिये उम्मीद तब जगी जब नीदरलैंड ने इसी स्थल पर हुए दिन के एक अन्य मैच में 13 रन की यादगार जीत से दक्षिण अफ्रीका को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया। नीदरलैंड की इस उलटफेर भरी जीत से सिर्फ भारत का ही सेमीफाइनल स्थान सुनिश्चित नहीं हुआ बल्कि इससे पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच मुकाबला ‘वर्चुअल क्वार्टरफाइनल’ बन गया जिसकी विजेता टीम अंतिम चार में पहुंचती। टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश की टीम ने मुश्किल पिच पर बायें हाथ के सलामी बल्लेबाज नजमुल हुसैन शांटो की 48 गेंद में 54 रन की पारी की बदौलत तेज शुरूआत की। लेकिन बांग्लादेश की टीम अंत में रन नहीं जुटा सकी जिसमें शाहीन अफरीदी (22 रन देकर चार विकेट) की गेंदबाजी ने अहम भूमिका अदा की। अफरीदी के टी20 अंतरराष्ट्रीय में करियर के सर्वश्रेष्ठ पदर्शन से पाकिस्तान ने प्रतिद्वंद्वी टीम को आठ विकेट पर 127 रन के स्कोर पर रोक दिया। इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवा दिये जिससे टीम एक समय मुश्किल स्थिति में दिख रही थी। लेकिन शान मसूद ने संयम बरतते हुए टीम को 11 गेंद रहते जीत दिलायी। पाकिस्तान ने अपने दोनों सलामी बल्लेबाज बाबर आजम (25 रन) और मोहम्मद रिजवान (32 रन) के विकेट जल्द ही गंवा दिये, जिसके बाद मोहम्मद हारिस ने 18 गेंद में 31 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली। जब टीम को सात रन चाहिए थे तो हारिस गेंद को टाइम नहीं कर सके और बांग्लादेश के कप्तान शाकिबुल हसन को कैच देकर आउट हुए। पाकिस्तान ने इफ्तिखार अहमद के रूप में एक और विकेट गंवा दिया लेकिन तब जीत के लिये केवल दो रन चाहिए थे। पाकिस्तानी कप्तान आजम कुछ रन बनाने के लिये बेताब दिख रहे थे। उनके सलामी जोड़ीदार मोहम्मद रिजवान को शून्य पर जीवनदान मिला जब बांग्लादेश के विकेटकीपर नुरूल हसन पहले ही ओवर में उनका कैच लपकने का मौका चूक गये। इन दोनों ने पहले विकेट के लिये 57 रन की भागीदारी की। लक्ष्य इतना बड़ा नहीं था तो रन रेट का दबाव भी नहीं था लेकिन पावरप्ले में शानदार गेंदबाजी करने वाले बायें हाथ के स्पिनर नासुम अहमद (14 रन देकर एक विकेट) ने 11वें ओवर में आजम का विकेट झटक लिया। फिर इबादत हुसैन ने अगले ओवर में रिजवान को आउट किया। तब पाकिस्तान को जीत के लिये 48 गेंद में 59 रन बनाने थे। हारिस ने इबादत पर एक चौका और छक्का जड़कर शुरूआत की। इससे पहले शांटो ने टूर्नामेंट में अपना दूसरा अर्धशतक लगाया। इस दौरान वह बेहतरीन लय में दिखे और उन्होंने बड़ी सहजता से गेंद सीमारेखा तक पहुंचायी। लिटन दास के जल्दी आउट होने के बाद शांटो और सौम्य सरकार (20 रन, 17 गेंद, एक चौका, एक छक्का) ने दूसरे विकेट के लिये 47 गेंद में 72 रन की साझेदारी निभाकर बांग्लादेश के लिये अच्छी नींव रखी। इस समय ऐसा लग रहा था कि टीम 150 रन से ज्यादा का स्कोर बना लेगी लेकिन फिर शादाब खान (30 रन देकर दो विकेट) ने विकेट गिराने का सिलसिला शुरू किया। इस लेग स्पिनर ने दो गेंद में दो विकेट झटक लिये जिसमें बांग्लादेशी कप्तान शाकिबुल हसन का शून्य पर संदिग्ध डीआरएस आउट होना भी शामिल रहा। शांटो का ध्यान भंग नहीं हुआ और वह आराम से अपनी पारी आगे बढ़ाते रहे। इस तरह उन्होंने 46 गेंद अपने 50 रन पूरे किये। लेकिन पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम की ऑफ स्पिनर इफ्तिखार अहमद को गेंदबाजी पर लगाने की रणनीति कारगर रही जिन्होंने शांटो को आउट कर लगाम कसी। इस गेंदबाज ने तीन ओवर में 15 रन देकर एक विकेट हासिल किया। फिर अफरीदी ने दो ओवर में छह गेंद में मोसादेक हुसैन, नुरूल हसन और तास्किन अहमद के विकेट झटके। तेज गेंदबाज हारिस रऊफ ने भी अच्छी गेंदबाजी करते हुए 21 रन देकर एक विकेट प्राप्त किया।(भाषा)



		 T20 World Cup में जिम्बाब्वे पर 71 रनों की शानदार जीत से भारत ग्रुप बी में रहा शीर्ष पर
Nov 6 2022 9:45:29

T20 World Cup में जिम्बाब्वे पर 71 रनों की शानदार जीत से भारत ग्रुप बी में रहा शीर्ष पर

सूर्यकुमार यादव (61 नाबाद) के विस्फोटक अर्द्धशतक के बाद रविचंद्रन अश्विन (22/3) की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने रविवार को टी20 विश्व कप 2022 के सुपर-12 मुकाबले में ज़िम्बाब्वे को 71 रन से रौंदकर सेमीफाइनल में जगह बनाई।भारत ने ग्रुप-2 के आखिरी मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए ज़िम्बाब्वे को 187 रन का लक्ष्य दिया, जिसके जवाब में जि़म्बाब्वे 115 रन पर ऑलआउट हो गई। सूर्यकुमार ने एक बार फिर अपनी 360 डिग्री बल्लेबाजी से विपक्षी टीम को पस्त किया। उन्होंने अपनी अर्द्धशतकीय पारी में 25 गेंदों पर छह चौकों और चार छक्कों की बदौलत 61 रन बनाये और भारत को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। ज़िम्बाब्वे ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 36 रन पर ही अपनी आधी टीम गंवा दी। रायन बर्ल (35) और सिकंदर रज़ा (34) ने ज़िम्बाब्वे के लिये संघर्ष किया लेकिन इससे हार का अंतर ही कम हुआ। भारत ने सुपर-12 के पांच मैचों में आठ पॉइंट हासिल करके अपने ग्रुप में पहला स्थान हासिल किया। सेमीफाइनल में रोहित शर्मा की टीम का सामना इंग्लैंड से होगा। ग्रुप-2 से सेमीफाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम पाकिस्तान को न्यूजीलैंड से मुकाबला करना है। भारत ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी और कप्तान रोहित शर्मा (15) का विकेट जल्दी गंवाने के बावजूद पावरप्ले में 46 रन जोड़ लिये। राहुल और विराट कोहली ने दूसरे विकेट के लिये 60 रन की साझेदारी की। कोहली 25 गेंदों पर 26 रन ही बना सके, लेकिन राहुल ने टूर्नामेंट का अपना दूसरा अर्द्धशतक जड़ते हुए 35 गेंदों पर तीन चौकों और तीन छक्कों की बदौलत 51 रन की पारी खेली। टी20 विश्व कप 2022 में अपना पहला मैच खेल रहे ऋषभ पंत तीन रन बनाकर रायन बर्ल के दर्शनीय कैच की भेंट चढ़ गये। ज़िम्बाब्वे ने मध्य ओवरों में कोहली, राहुल और पंत का विकेट लेकर मैच में वापसी करनी चाही लेकिन सूर्यकुमार ने एक बार फिर अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से विपक्षी टीम को असहाय कर दिया। सूर्यकुमार ने एक और तेज अर्द्धशतक जमाते हुए 25 गेंदों पर छह चौकों और चार छक्कों की बदौलत नाबाद 61 रन बनाये। वह पाकिस्तान के मोहम्मद रिज़वान (2021) के बाद एक साल में 1000 से ज्यादा टी20 अंतरराष्ट्रीय रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज भी बन गए।सूर्यकुमार की बदौलत भारत ने आखिरी पांच ओवरों में 79 रन जोड़े और 20 ओवरों में 186/5 का स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी ज़िम्बाब्वे की आधी टीम 36 रन पर ही पवेलियन लौट गयी। भुवनेश्वर कुमार ने पहला ओवर मेडेन फेंकते हुए वेस्ले माधेवेरे को आउट किया जबकि अर्शदीप सिंह ने रेजिस चकाब्वा को शून्य रन पर बोल्ड किया। हार्दिक पांड्या ने अपनी ही गेंद पर क्रेग इर्विन (13) का कैच पकड़ा जबकि मोहम्मद शमी ने शॉन विलियम्स और टेनी मुन्योंगा को आउट किया। रज़ा और बर्ल ने हालांकि शेवरन्स के लिये संघर्ष किया और छठे विकेट के लिये 60 रन जोड़े। बर्ल ने 22 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का लगाकर 35 रन बनाये जबकि रज़ा ने 24 गेंदों पर तीन चौकों के साथ 34 रन की पारी खेली। दोनों बल्लेबाजों ने ज़िम्बाब्वे की पारी को संभाल लिया था लेकिन बड़े लक्ष्य का दबाव बहुत ज्यादा था। अश्विन ने पारी के 14वें ओवर में बर्ल को आउट करने के बाद वेलिंगटन मसाकादज़ा और रिचर्ड नगारवा को पवेलियन भेज दिया। विशाल लक्ष्य के दबाव में रज़ा भी हार्दिक पांड्या की गेंद पर छक्का लगाने के प्रयास में आउट हो गये। पारी के 18वें ओवर में टेंडाई चटारा का विकेट गिरने के साथ ज़िम्बाब्वे की पारी समाप्त हुई और भारत ने यह मैच 71 रन से जीत लिया। इस जीत के साथ भारत ग्रुप-2 की अंक तालिका में शीर्ष पर रहा, जबकि दूसरे स्थान पर रहकर पाकिस्तान ने भी सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई किया।



		 फिर चोकर्स साबित हुई दक्षिण अफ्रीका, कप्तान और कोच ने कहे दुख में यह शब्द
Nov 6 2022 9:45:29

फिर चोकर्स साबित हुई दक्षिण अफ्रीका, कप्तान और कोच ने कहे दुख में यह शब्द

एडीलेड:दक्षिण अफ्रीका के कप्तान तेम्बा बावुमा ने कहा कि टी20 विश्व कप से बाहर होने की बात स्वीकार करना मुश्किल है क्योंकि उनकी टीम रविवार को कमजोर नीदरलैंड से हारकर फिर से एक और आईसीसी टूर्नामेंट से बाहर हो गयी।दक्षिण अफ्रीका को नीदरलैंड ने सुपर 12 मुकाबले में 13 रन से हराकर टूर्नामेंट के ग्रुप चरण से बाहर कर दिया। दक्षिण अफ्रीका की टीम आईसीसी टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद अंत में हार जाती है इसलिये उसे ‘चोकर्स’ कहा जाता है। मैच के बाद निराश बावुमा ने कहा, ‘‘इसे पचा पाना मुश्किल है। एकजुट इकाई के तौर पर हमें प्लेऑफ में पहुंचने का भरोसा था। ’’दमदार तेज गेंदबाजी आक्रमण रखने वाली दक्षिण अफ्रीका को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिये कमजोर नीदरलैंड को हराने की जरूरत थी। लेकिन इस उलटफेर भरी हार से पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच मुकाबला ‘करो या मरो’ का बन गया जिससे ग्रुप दो की सेमीफाइनल में प्रवेश करने वाली दूसरी टीम तय होगी।दक्षिण अफ्रीका के हारने से भारत का जिम्बाब्वे के खिलाफ मुकाबले के परिणाम से पहले ही अंतिम चार में स्थान सुनिश्चित हो गया था। बावुमा ने कहा, ‘‘दुर्भाग्य से हम जीत नहीं सके। टॉस जीतकर गेंदबाजी करना आदर्श नहीं रहा। हमने अहम मौकों पर विकेट गंवाये। उन्होंने मैदान का अच्छा इस्तेमाल किया जो हम नहीं कर सके।’’दक्षिण अफ्रीका की टीम हमेशा टूर्नामेंट से पहले प्रबल दावेदारों में शुमार होती है लेकिन आईसीसी टूर्नामेंट के अंत में बाहर हो जाती है और टीम अभी तक विश्व कप के फाइनल में नहीं पहुंच सकी है। टीम 2009 और 2014 में दो बार टी20 विश्व कप में सेमीफाइनल चरण में बाहर हुई।वनडे विश्व कप में वह चार मौकों पर 1992, 1999, 2007 और 2015 में अंतिम चार में हार गयी। किसी भी प्रारूप में दक्षिण अफ्रीका पर पहली जीत दर्ज करने के बाद नीदरलैंड के कप्तान स्कॉट एडवर्ड्स के पास इस खुशी को बयां करने के लिये शब्द ही नहीं थे।उन्होंने कहा, ‘‘काफी कुछ कहना है, लेकिन इसे बताने में थोड़ा समय लगेगा। नीदरलैंड की विश्व कप में एक और बड़ी उलटफेर भरी जीत। ’’सुपर 12 चरण में यह नीदरलैंड की दूसरी जीत थी, उसने इससे पहले जिम्बाब्वे को पांच विकेट से हराया था। नीदरलैंड के खिलाफ हार कोच के रूप में सबसे बुरी: बाउचर दक्षिण अफ्रीका के निवर्तमान कोच मार्क बाउचर ने रविवार को यहां नीदरलैंड के हाथों मिली हार को कोच के रूप में उनकी सबसे बुरी पराजय करार दिया, क्योंकि इससे उनकी टीम टी20 विश्वकप से बाहर हो गई। जिंबाब्वे के खिलाफ मैच बारिश की भेंट चढ़ने के बाद दक्षिण अफ्रीका बांग्लादेश और भारत पर जीत के कारण ग्रुप दो में शीर्ष पर पहुंच गया था। उसे अंतिम चार में पहुंचने के लिए नीदरलैंड पर केवल जीत की दरकार थी। नीदरलैंड की टीम ने चार विकेट पर 158 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया और फिर इसके बाद दक्षिण अफ्रीका को आठ विकेट पर 145 रन पर रोककर 13 रन से जीत दर्ज की। बाउचर से पूछा गया कि आखिर गलती कहां हुई, उन्होंने कहा,‘‘ हमने जिस तरह से शुरुआत की अगर आप उस पर गौर करो तो हमारे खिलाड़ी ऊर्जावान नहीं थे। फिर चाहे इसका कारण मैच का सुबह शुरू होना हो या कुछ और हमारे लिए यह समय वास्तव में मुश्किल था।’’ दक्षिण अफ्रीका को एक बार फिर से विश्वकप से जल्दी बाहर होना पड़ा। वह अभी तक वनडे या टी20 विश्व कप के फाइनल में जगह नहीं बना पाया है। बाउचर ने कहा,‘‘ ईमानदारी से कहूं तो मैं बेहद निराश महसूस कर रहा हूं। मेरा मानना है कि यह टीम को बेहतर मौके की हकदार थी लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हुआ जो कि मेरे लिए बेहद निराशाजनक है और निश्चित तौर पर हमारे प्रत्येक खिलाड़ी के लिए यह निराशाजनक है।’’ दक्षिण अफ्रीका की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के बाद 1992 के वनडे विश्व कप से ही उसके साथ यह कहानी जुड़ गई थी। तब इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में उसे 13 गेंदों पर 22 रन की जरूरत थी लेकिन बारिश के कारण खेल रुक गया और आखिर में उसे एक गेंद पर 21 रन बनाने की चुनौती मिली। इसके बाद 1999 के विश्वकप सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसे चार गेंदों पर केवल एक रन की जरूरत थी लेकिन एनल डोनाल्ड के रन आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने वापसी की और फाइनल में जगह बनाई। विश्व कप 2003 ने वह अच्छी स्थिति में था लेकिन डकवर्थ लुईस का आंकड़े का सही आकलन नहीं कर पाए और श्रीलंका के खिलाफ मैच टाई छूटने के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए। इसके अलावा उसे 2007 और 2015 के वनडे विश्वकप में भी सेमीफाइनल में हार झेलनी पड़ी। टी20 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका में दो बार 2009 और 2014 में सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। बाउचर से पूछा गया क्या नीदरलैंड के खिलाफ हार सभी में सबसे बुरी थी, उन्होंने कहा,‘‘ मेरे कोच रहते हुए यह शायद सबसे बुरी हार है। यह बेहद निराशाजनक है क्योंकि खिलाड़ी के रूप में आप कुछ तो कर सकते हैं जबकि कोच के तौर पर आपको अच्छा प्रदर्शन करने के लिए दूसरों पर निर्भर रहना पड़ता है। कोच के रूप में मेरे लिए यह निश्चित तौर पर सबसे बुरी हार है।’’(भाषा)



		 ऋषभ पंत को आखिरकार रोहित ने टॉस जीतकर दिया मौका, जिम्बाब्वे के खिलाफ भारत की बल्लेबाजी
Nov 6 2022 3:22:31

ऋषभ पंत को आखिरकार रोहित ने टॉस जीतकर दिया मौका, जिम्बाब्वे के खिलाफ भारत की बल्लेबाजी

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (13:18 IST) हमें फॉलो करें रोहित शर्मा ने ग्रुप बी के अंतिम मैच में टॉस जीतकर जब यह कहा कि आज टीम इंडिया में एक बदलाव है और ऋषभ पंत दिनेश कार्तिक की जगह खेलेंगे तो भारतीय फैंस खुशी से झूम उठे। यह पहली बार होगा ऋषभ पंत को बतौर बल्लेबाज कीपर भारतीय टीम में टी-20 विश्वकप में शामिल किया जाएगा। इससे पहले ऋषभ पंत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कीपिंग करने का मौका मिला था जब दिनेश कार्तिक को चोट लग गई थी। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने इसके साथ जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। गौरतलब है कि भारत पहले ही टी-20 विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुंच चुका है और यह मैच नतीजे पर सिर्फ इतना फर्क डालेगा कि अगर भारत हारती है तो वह ग्रुप की दूसरी टीम बनेगी।



		 बांग्लादेश को 5 विकेटों से हराकर पाकिस्तान पहुंचा T20 World Cup के सेमीफाइनल में
Jan 1 1900 12:00:00

बांग्लादेश को 5 विकेटों से हराकर पाकिस्तान पहुंचा T20 World Cup के सेमीफाइनल में

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (13:06 IST) हमें फॉलो करें टी-20 विश्वकप में अपने पहले दो मैच हारकर सेमीफाइनल की उम्मीद छोड़ चुके पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका की हार की लाइफ लाइन का भरपूर फायदा उठाया और एडिलेड में बांग्लादेश को 5 विकेटों से हराकर अंतिम 4 में जगह बनाई। शाहीन शाह अफरीदी (22/4) की शानदार गेंदबाजी और मोहम्मद हारिस के विस्फोटक 31 रनों की बदौलत पाकिस्तान ने रविवार को टी20 विश्व कप 2022 के सुपर-12 मुकाबले में बंगलादेश को छह विकेट से हराकर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई। बंगलादेश ने ग्रुप-2 के मैच में पाकिस्तान को 128 रन का लक्ष्य दिया, जिसे पाकिस्तान ने 11 गेंदें रहते हुए हासिल कर लिया।दिन के पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को नीदरलैंड के हाथों मिली हार के बाद यह मैच मूल रूप से क्वार्टरफाइनल बन गया था और इसे जीतने वाली टीम का सेमीफाइनल में जाना तय था। शाहीन ने इस महत्वपूर्ण मैच में अपनी लय हासिल करते हुए केवल 22 रन देकर चार विकेट लिये और बंगलादेश को 127 रन पर रोक दिया। लक्ष्य का पीछा करते हुए जब हारिस बल्लेबाजी करने आए तो पाकिस्तान को 52 गेंदों पर 67 रनों की आवश्यकता थी। हारिस ने 18 गेंदों पर एक चौके और दो छक्कों के साथ 31 रन बनाकर अपनी टीम के लिये सेमीफाइनल में पहुंचने का रास्ता आसान कर दिया।पाकिस्तान इस जीत के साथ भारत के बाद सेमीफाइनल में पहुंचने वाली ग्रुप-2 की दूसरी टीम बन गई है। बंगलादेश ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी और लिटन दास (10) का विकेट जल्दी गंवाने के साथ पारी को सहजता के साथ आगे बढ़ाया। नजमुल हसन शान्तो और सौम्य सरकार ने दूसरे विकेट के लिये 52 रन की साझेदारी की। शान्तो ने 48 गेंदों पर सात चौकों के साथ 54 रन बनाये जबकि सौम्य सरकार ने 17 गेंदों पर 20 रन का योगदान दिया। शान्तो-सौम्य इस साझेदारी के साथ बंगलादेश को बड़े स्कोर की ओर लेकर बढ़ रहे थे, लेकिन शादाब ने 11वें ओवर में सौम्य और कप्तान शाकिब अल-हसन को आउट करके मैच का रुख बदल दिया। यहां से बंगलादेश के विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया। अफीफ हुसैन ने हालांकि 20 गेंदों पर नाबाद 24 रन बनाये, लेकिन मध्यक्रम के अन्य बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके और बंगलादेश 127/8 के स्कोर पर सीमित रह गई। शाहीन ने चार ओवर में सिर्फ 22 रन देकर चार विकेट लिये, जबकि शादाब ने चार ओवर में 30 रन देकर दो विकेट अपने नाम किये। हारिस रऊफ और इफ्तिखार अहमद ने एक-एक विकेट अपने नाम किया।



		 शाकिब के आउट पर हुआ विवाद, बांगलादेश ने पाकिस्तान के खिलाफ बनाए सिर्फ 127 रन
Jan 1 1900 12:00:00

शाकिब के आउट पर हुआ विवाद, बांगलादेश ने पाकिस्तान के खिलाफ बनाए सिर्फ 127 रन

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (11:42 IST) हमें फॉलो करें एडिलेड: पाकिस्तान ने शाहीन शाह अफरीदी (22/4) और शादाब खान (30/2) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत बंगलादेश को टी20 विश्व कप 2022 के सुपर-12 मुकाबले में रविवार को 127 रन पर रोक दिया। पाकिस्तान को टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिये 20 ओवरों में 128 रन की दरकार है। बंगलादेश ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी और लिटन दास (10) का विकेट जल्दी गंवाने के साथ पारी को सहजता के साथ आगे बढ़ाया। नजमुल हसन शान्तो और सौम्य सरकार ने दूसरे विकेट के लिये 52 रन की साझेदारी की। शान्तो ने 48 गेंदों पर सात चौकों के साथ 54 रन बनाये जबकि सौम्य सरकार ने 17 गेंदों पर 20 रन का योगदान दिया। शान्तो-सौम्य इस साझेदारी के साथ बंगलादेश को बड़े स्कोर की ओर लेकर बढ़ रहे थे, लेकिन शादाब ने 11वें ओवर में सौम्य और कप्तान शाकिब अल-हसन को आउट करके मैच का रुख बदल दिया। हालांकि यह निर्णय काफी विवादित रहा। पगबाधा होने पर शाकिब ने रिव्यू लिया और तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर का साथ दिया जबकि स्निकोमीटर साफ दिखा रहा था कि रेखाएं बल्ले से लगी थी क्योंकि बल्ला जमीन पर नहीं लगा था। यहां से बंगलादेश के विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया। अफीफ हुसैन ने हालांकि 20 गेंदों पर नाबाद 24 रन बनाये, लेकिन मध्यक्रम के अन्य बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके और बंगलादेश 127/8 के स्कोर पर सीमित रह गई। शाहीन ने चार ओवर में सिर्फ 22 रन देकर चार विकेट लिये, जबकि शादाब ने चार ओवर में 30 रन देकर दो विकेट अपने नाम किये। हारिस रऊफ और इफ्तिखार अहमद ने एक-एक विकेट अपने नाम किया।(वार्ता)



		 T20 World Cup 2022 के सेमीफाइनल में पहुंची टीम इंडिया, जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच मात्र औपचारिकता
Jan 1 1900 12:00:00

T20 World Cup 2022 के सेमीफाइनल में पहुंची टीम इंडिया, जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच मात्र औपचारिकता

पुनः संशोधित रविवार, 6 नवंबर 2022 (09:49 IST) हमें फॉलो करें दक्षिण अफ्रीका की नीरलैंड के खिलाफ आकस्मिक हार का सीधा फायदा टीम इंडिया को मिला और वह ग्रुप बी में सेमीफाइनल में जाने वाली पहली टीम बन गई। हालांकि दक्षिण अफ्रीका की हार से पाकिस्तान और बांग्लादेश को भी सेमीफाइनल में जाने की उम्मीद मिली। जो यह मैच जीतेगा वह टीम की दूसरी टीम बनेगा। भारत के अब 6 अंक है और मेलबर्न में उसे जिम्बाब्वे से भिड़ना है। अगर पाकिस्तान बांग्लादेश को हरा देता तो भारत को यह मैच जीतना जरूरी था। हालांकि अब भारत के खिलाफ यह दबाव भी मिट गया है। जिम्बाब्वे पहले ही सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गई है।



		 T20 World Cup में वर्चुअल क्वार्टरफाइनल बना पड़ोसियों का मैच, बांग्लादेश ने पाक के खिलाफ टॉस जीतकर चुनी बल्लेबाजी
Jan 1 1900 12:00:00

T20 World Cup में वर्चुअल क्वार्टरफाइनल बना पड़ोसियों का मैच, बांग्लादेश ने पाक के खिलाफ टॉस जीतकर चुनी बल्लेबाजी

बांग्लादेश और पाकिस्तान शनिवार शाम तक अपनी सभी उम्मीदें खो चुकी थी लेकिन रविवार की सुबह उनके लिए खुश खबरी लेकर आई है। दक्षिण अफ्रीका की नीदरलैंड पर हार से पाकिस्तान और बांग्लादेश को सेमीफाइनल में जाने का आखिरी मौका मिल गया है। यह तय हो गया है कि इन दोनों में से 1 टीम सेमीफाइनल जरूर जाएगी। हालांकि सिक्का बांग्लादेश ने जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पाकिस्तान और बांग्लादेश दोनों के चार चार अंक हैं और एक जीत से उनके छह अंक हो जायेंगे। शीर्ष पर काबिज भारत के पहले ही छह अंक हैं और टीम को दिन में जिम्बाब्वे के खिलाफ मुकाबला खेलना है। बांग्लादेश ने अंतिम एकादश में तीन बदलाव करते हुए सौम्य सरकार, नासुम अहमद और इबादत हुसैन को शामिल किया है।वहीं पाकिस्तान ने कोई बदलाव नहीं किया है।


Load More News...